कोलेस्ट्रॉल क्या हैं? | हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम कैसे करें?

272

इस आर्टिकल के जरिये बता रहें हैं कि, कोलेस्ट्रॉल क्या हैं? हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम कैसे करें और कोलेस्ट्रॉल कितने प्रकार के होते हैं। (How to control cholesterol level in Hindi) ख़राब कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने के क्या लक्षण और कारण क्या हैं और क्या खाने-पीने से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता हैं? कोलेस्ट्रॉल कितना होना चाहिए और कोलेस्ट्रॉल कम करने के योग। (How to control ldl cholesterol in Hindi) कोलेस्ट्रॉल नार्मल करने के उपाय।

कोलेस्ट्रॉल क्या हैं?

कोलेस्ट्रॉल एक प्रकार का फेट होता हैं, जिसे चर्बी भी कहते हैं। हमारे शरीर में फेट दो तरह का होता हैं, पहला कोलेस्ट्रॉल और दूसरा ट्राइग्लिसराइड्स। ट्राइग्लिसराइड्स कम नुकसान होता हैं। जानवर से निकलकर जो चीज आता हैं, उसमें कोलेस्ट्रॉल पाया जाता हैं और तेल और वसा युक्त भोजन में ट्राइग्लिसराइड्स पाया जाता हैं।

कोलेस्ट्रॉल में एक फैटी एसिड होता हैं और ट्राइग्लिसराइड्स में तीन फैटी एसिड होता हैं। 75% कोलेस्ट्रॉल हमारा शरीर में लिवर बनाता हैं और 25 से 30 प्रतिशत कोलेस्ट्रॉल भोजन के माध्यम से मिलता हैं। यह विटामिन D, कोशिका जैसे कई और हार्मोन को निर्माण करने में मदद करता हैं। कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर का एक जरूरी फैट होता हैं। यह मोम की तरह पिले रंग का होता हैं।

95% लोगों में हृदयघात का कारण, शरीर में बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल होता हैं। कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ना, यह हमारे जीने के तरीका पर निर्भर करता हैं, 500 में से 1 लोग जरूर ख़राब कोलेस्ट्रॉल से पीड़ित होता हैं। हमें जिंदगी भर अपने कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य रखना पड़ता हैं। कोलेस्टॉल पानी को नहीं घुलता हैं।

कोलेस्ट्रॉल दो प्रकार का होता हैं, पहला अच्छा कोलेस्टॉल, जिसे हम HDL कोलेस्टॉल कहते हैं, यह ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता हैं। और दूसरा ख़राब कोलेस्ट्रॉल, जिसे हम LDL कोलेस्ट्रॉल कहते हैं, यह दिल का दौरा जैसे कई और समस्याओं को उत्पन्न करता हैं। हाई कोलेस्ट्रॉल को हाइपरलिपीडेमिया भी कहते हैं। 20 वर्ष से अधिक लोगों में 40% लोग हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल के कारण दिल की बीमारी के कारण मौत हो जाते हैं।

high cholesterol level ko kam kaise karen