वजन कम करने के लिए बेस्ट डाइट प्लान, नेचुरल और घरेलू तरीका

182

इस आर्टिकल के जरिये में बता रही हैं कि आप अपने खानपान, लाइफस्टाइल, घरेलू उपाय और नेचुरल तरीका से वजन को कम कैसे कर सकते हैं। (Diet Plan for Weight Loss in Hindi). जाने मोटापा क्या हैं और कितने प्रकार के होते हैं। वजन कम करने के लिए क्या खाना, पीना चाहिए?

मोटापा के परिचय-

मोटापा की पहचान हम लोगों को देखकर भी कर सकते हैं, दूसरा तरीका जाँच द्वारा हम मोटापा का पता लगा सकते हैं। हमारे शरीर का वजन कितना हो, वह हमारे लम्बाई पर निर्भर करती हैं। जिन लोगों का BMI (Body Mass Index) रेशियो 25 से नीचे हैं तो उसे नॉर्मल माना जाता हैं, अगर 30 तक BMI रेशियो हैं तो उसे ज्यादा वजन बढ़ना बोलेगें और अगर 30-35 से अधिक BMI रशियों हैं तो और किसी तरह की बीमारी हैं तो फिर खतरा बढ़ जाता हैं, यदि 40 से अधिक BMI रेशियों हैं तो बहुत ही खतरनाक माना जाता हैं, शरीर में कई तरह की बीमारी और जान जाने का खतरा बना रहता हैं।

मोटापा हमारे शरीर के अंदर जमे अतिरिक्त फैट होता हैं जो हमारे शरीर का वजन बढ़ाता हैं। मोटापा कम करने का सही मतलब हैं, अपने शरीर के अंदर से अतिरिक्त जमा फैट को बाहर निकालना और अपने मसल्स मास को बढ़ाना, जिससे हमारा शरीर सुडौल और सुन्दर लगें।

मोटापा तीन तरह का होता हैं। पहला पानी कम पीने के कारण फेट बढ़ता हैं। (motapa kam karne ke liye diet plan) दूसरा हमारे शरीर में अतिरिक्त जमा फैट जो बेली फेट होता हैं, इसे बाहर निकालना जरूरी होता हैं और तीसरा मसल्स मास बढ़ना जो हमारे शरीर के लिए जरूरी हैं।

vajan-kam-karne-ke-daet-plan

वजन कम करने को लेकर कुछ गलतफैमियाँ

Table of Contents

आपने अक्सर वीडियो और आर्टिकल में पढ़ा होगा कि, लोग दावा करते हैं कि 10 दिन में 10 किलों वजन कम करें या फिर 15 दिन में 7 किलों वजन कम करें। यह एक गलतफैमी हैं, क्योंकि सब के लिए एक जैसे डाइट प्लान नहीं हो सकता हैं, सबका शरीर का स्वभाव अलग-अलग होता हैं। सबका ब्लड-ग्रुप अलग होता हैं। मतलब कि एक ही खाना एक के लिए अच्छा हो सकता हैं और एक के लिए ख़राब हो सकता हैं।

अगर आप जितना जल्दी वजन कम करते हैं, उतना जल्दी फिर वजन बढ़ जाता हैं। कोई भी डाइट फॉलो करने से पहले किसी डायटीशियन की सलाह जरूर लें। हाँ अच्छी खानपान, अच्छी दिनचर्या और योग-प्राणायाम से वजन कम कर सकते हैं। आज इस आर्टिकल में बता रहें हैं कि आप अच्छी खानपान और लाइफस्टाइल से वजन कम कैसे कर सकते हैं, जिससे वजन सामान्य रहें।

वजन कम करने के लिए भोजन करने के लिए सही तरीका (Best way to eat for long term weight loss in Hindi)

हमारा शरीर कभी भी कुछ खाने के लिए नहीं बना हैं। भोजन करने का सही समय वह होता हैं जब हमारी जठर-अग्नि तेज होती हैं। कभी-भी कुछ-भी थोड़ा-थोड़ा खाते रहें, यह नियम विदेशों में लागू होता हैं। जहाँ ठंड ज्यादा पड़ती हैं, वहाँ कई महीनों तक धुप नहीं निकलती हैं। जिससे हमारी जठर-अग्नि मंद रहती हैं और हमारे शरीर में विटामिन D की कमी हो जाती हैं और वजन कम करने में विटामिन D की अहम भूमिका रहती हैं।

भोजन करते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखें कि, कभी-भी भूख से ज्यादा भोजन नहीं करना हैं, हमेशा भूख से 1 रोटी कम ही खाना हैं। छोटी-छोटी कोर लेना हैं और एक कोर को 32 बार चबाकर अंदर करना हैं, जिससे भोजन का पाचन अच्छे से होता हैं। भोजन करने में समय लेना हैं, कम-से-कम खाना खाने में 15-20 मिनट का समय जरूर लेना हैं।

नास्ता, लंच और डिनर में कम-से-कम 5-6 घंटा का अंतर जरूर रखें। अगर आप नास्ता 8 बजे करते हैं तो लंच 1 बजे करें और डिनर 7 बजे तक कर लें, अधिक-से-अधिक रात्रि का भोजन 8 बजे से ज्यादा नहीं होना चाहिए। अगर रात को आपको देर रात खाना पढ़ता हैं तो रात के भोजन को हल्का और लाइट रखें। नास्ता में सबसे ज्यादा खाएँ उससे कम लंच में खाएँ और उससे भी कम रात को खाएँ, लेकिन लोग उल्टा ही करते हैं।

vajan-kam-karne-ke-liye-khane-ka sahi-tarika

वजन कम करने के लिए भोजन में किया शामिल करें (Add for food in weight loss in Hindi)

आप जब भी खाना खाते हैं, आपका खाना पोषक-तत्व से भरपूर हो, मतलब कि एक हैल्थी खाना हो। एक प्रोपर बैलेंस डाइट फॉलो करें। बैलेंस डाइट में सब तरह का खाना आ जाते हैं जैसे:- कॉम्प्लेक्स कार्बोहायड्रेट, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन, मिनिरल्स, मैक्रोनुट्रिएंट्स, पॉलीफेनोल और फेट जैसे पोषक-तत्व शामिल हो। बहुत को गलतफैमी होता हैं कि, अगर खाने में अतिरिक्त फेट तो हमारे शरीर का फेट बढ़ जाएगा, इसके डर से रोटी, खाने में घी और तेज का इस्तेमाल नहीं करते हैं, लेकिन ऐसा नहीं होता हैं। हमारे शरीर के लिए फेट भी बहुत जरूर पोषक-तत्व हैं।

नास्ता में शामिल करें:-

नास्ते में रोटी, दाल, ओट्स, दलिया और सब्जी के अलावे फ्रूट और सलाद भी शामिल करें। ध्यान रखें कि सब्जी पूरी तरह पका नहीं हो। कॉम्प्लेक्स कार्बोहायड्रेट के लिए मोटा अनाज जो, राय और बाजरा के बने रोटी या अन्य चीजों को शामिल कर सकते हैं। पहले के समय में लोग इनका सेवन ज्यादा करते थे। कॉम्प्लेक्स कार्बोहायड्रेट के सेवन से पेट लम्बे समय तक भरा रहता है, जिससे खाने के 5-6 का अंतर रखना आसान हो जाता हैं, जिससे वजन कम करने में मदद करता हैं।

फेट के लिए आप देशी के घी और सरसों का तेल रोटी या पराठा के साथ सेवन कर सकते हैं। प्रोटीन के लिए अंडा, अंडा भुरची, चिकन और मटन को खाने में शामिल कर सकते हैं और अगर शाकाहारी हैं तो आप पनीर, पनीर पराठा, टोफू, बटर, बेसन का चीला, पोहा उपमा और जो साउथ इंडियन से वह लोग इडली सांभर को भी अपने नास्ते में शामिल कर सकते है। नास्ते के आप आम के जूस या कोई और जूस का सेवन जरूर करें।

लंच में शामिल करें:-

लंच में सफेद चावल के जगह ब्राउन चावल और दाल में राजमा, चना, लोबिया और सलाद को जरूर शामिल करें। सलाद के सेवन हम लम्बे समय तक पेट भरा महसूस करते हैं। लंच के बाद छाछ का सेवन जरूर करें। अगर लंच से पहले कोई स्नैक्स करते हैं तो स्नैक्स में एक सेब या कोई सीजनल फल खा सकते हैं, ये नहीं कि तला, भुजा जंक-फ़ास्ट फ़ूड खा लिए ऐसा नहीं करना हैं।

डिनर में शामिल करें:-

रात्रि में व्होल ग्रेन आटे कि रोटी और प्रोटीन के लिए चिकन, मटन लें सकते हैं और शाकाहारी लोग ब्राउन चावल, पनीर और मशरूम शामिल कर सकते हैं और शाम में स्नैक्स करते हैं तो एक भुना चना, मूँगफली और भुजा मक्खन लें सकते हैं। अगर आपका ब्लड-ग्रुप O+ हैं तो आप रात में प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन नहीं करें। अच्छी खानपान से हमें नींद अच्छी आती है, हमारा मूड भी अच्छा रहता हैं और हम तनाव मुक्त रहते हैं।

wajan-kam-karne-ke-liye-bhojan-me-kya shamil-karna-chahiye

वजन घटाने के लिए पानी का महत्व (How to loss weight by drinking hot water in Hindi)

वजन कम करने के लिए पानी पर्याप्त मात्रा में पीना बहुत जरूरी हैं। अगर पानी कम मात्रा में पीते हैं तो पेट अच्छे से साफ नहीं हो पाता हैं, जिससे कब्ज की समस्या होती हैं और हमारा शरीर डिहाइड्रेशन हो जाता हैं। पानी पर्याप्त मात्रा में पीने से शरीर से गंदगी साफ करने के अलावे हमारा मेटाबॉलिस्म भी ठीक रहता हैं, जिससे खाना का पाचन अच्छे से होता हैं और वजन कम करने में मदद करता हैं। वजन कम करने के लिए सादा पानी के मुकाबले, गुनगुना पानी ज्यादा कारगर हैं।

बहुत उठते ही कम-से-कम 2-3 गिलास गुनगुना पानी जरूर पिएँ। एक दिन में 2.5 से 3 लीटर पानी जरूर पिएँ, कम-से-कम 8-9 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए। पानी जब भी पियें घूट-घूट कर पियें। सुबह के अलावे जब भी पानी पियें 250 ग्राम से ज्यादा एक बार में नहीं पियें। पानी हमेशा बैठकर पियें। पानी पिने का यह नियम वजन कम करने में बहुत मदद करता हैं।

wajan kam karne ke liye 1 din me kitna pani pina chahiye

वजन कम करने के चक्कर में ना करें ये गलतियाँ

  • बहुत लोग वजन कम करने के चक्कर में दिनभर भूखा रहते हैं, यह वजन कम करने का गलत तरीका हैं, इससे शरीर में कमजोरी और शरीर का रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती हैं।
  • बहुत लोग ऐसा भी करते हैं कि वजन कम करने के लिए सुबह का नास्ता छोड़ देते हैं, इससे आपका वजन घटने के अलावे और बढ़ जाता हैं तो सुबह का नास्ता समय से जरूर करें।
  • वजन कम करने में बहुत लोग चावल खाना बिल्कुल ही बंद कर देते हैं, ऐसा नहीं करना चाहिए। हाँ अगर चावल अधिक मात्रा में खाते हैं तो चावल की मात्रा कम कर सकते हैं।
  • कहीं पर देखकर सुनकर अलग-अलग डाइट प्लान फॉलो नहीं करें, इससे शरीर का नुकसान हो सकता हैं।
  • कई तरह के डाइट प्लान होते हैं, उसे अच्छे से जाने बिना फॉलो नहीं करना चाहिए, इससे शरीर के कई हार्मोन पर बुरा असर पड़ता हैं।
  • अगर आप सप्ताह-सप्ताह में बार-बार डाइट प्लान चेंज करते हैं तो ऐसा बिल्कुल मत करें। ऐसा करने से शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ सकता हैं।
  • अगर आपके शरीर में विटामिन D की कमी हैं तो उससे भी वजन कम करने में दिक्कत हो सकती हैं।
  • कसरत, योग-प्राणायाम और पैदल चलना ये सारे आदतें जीवन में नहीं डालते हैं तो भी वजन कम नहीं कर सकते हैं। कसरत भी अधिक मात्रा में नहीं कर सकते हैं।
  • अपने लाइफस्टाइल में बदलाव नहीं करना कि, कब उठना हैं, कब सोना हैं, कब खाना हैं, कब पानी पीना हैं और कब कसरत करना हैं। ये सरे अच्छी आदतें अपने जीवन में जरूर लाएँ।
  • किसी अच्छी सर्टिफाइड डाइटीशियन से सलाह नहीं लेना कि आपके शरीर के लिए क्या अच्छा हैं और क्या खराब हैं।
wajan-kam-karne-ke-liye-kya-nahi-khana-chahiye

वजन काम करने के लिए क्या नहीं खाना चाहिए (No eating food for weight loss in Hindi)

  • सबसे पहले वजन कम करने के लिए चीनी खाना बंद कर दें। आप चीनी के जगह धागे वाले मिश्री, गुड़, सक्कर, शहद, फल, फल के जूस, डेट्स शुगर और स्टेविआ, ये सारे मीठा के जगह इस्तेमाल कर सकते हैं, ध्यान रखें कि जिनकी तासीर गर्म होती हैं, उनका इस्तेमाल सर्दियों में करें और जिनका तासीर ठंडी होती हैं, उनका इस्तेमाल गर्मियों में करें।
  • मेदा और मेदा से बने जितने भी खाद्य प्रदार्थ हैं, उनका सेवन नहीं करें।
  • ब्राउन ब्रेड भी नहीं खाएँ, क्योंकि ब्राउन ब्रेड में भी मेदा का इस्तेमाल किया जाता हैं।
  • फलों में चार फल केला, आम, अंगूर और चीकू नहीं खाएँ, बाकि सारे भरपूर मात्रा में खाएँ।
  • सब्जियों में आलू वजन काम करने के लिए बहुत कम मात्रा में खाएँ।
  • बेकरी फ़ूड आइटम, नमकीन, भुजिया और बिस्कुट कई ऐसे खाद्य प्रदार्थ हैं, इनका सेवन नहीं करें।
  • साधारण नमक का भी ज्यादा इस्तेमाल नहीं करें, इसके जगह में सेंधा नमक का इस्तेमाल करें।
  • वजन कम करने के लिए सफेद चावल नहीं खाना चाहिए, सफेद चावल कि जगह ब्राउन चावल खाना चाहिए।
  • एक ही तेल में बार-बार तला चीज नहीं खाना चाहिए।
  • कोल्ड ड्रिंक और सॉफ्ट ड्रिंक में जितने पेय आते है, उन्हें नहीं पीना चाहिए, ये आपके वजन और बड़ा देगा।

वजन कम करने के लिए क्या खाना चाहिए?

  • वजन काम करने के लिए जो, ज्वर, बाजरे और रागी के रोटी जरूर खाना चाहिए।
  • वजन कम करने के लिए फल भरपूर मात्रा में सेवन करें, सिर्फ चार फल छोड़ आम, केला, अंगूर और चीकू।
  • किसी भी प्रकार का सलाद भरपूर मात्रा में सेवन करें। सलाद वजन कम करने के लिए बहुत कारगर हैं।
  • सब्जी का सेवन भरपूर मात्रा में करें, ध्यान रखें कि सब्जी तेल या फिर तेल की मात्रा बहुत कम हो। सब्जी, फल और सलाद में बाहर कम कैलरीज होता हैं जो वजन कम करने के लिए बहुत अच्छा होता हैं।
  • फाइबर वजन कम करने के लिए बहुत उपयोगी होता हैं, इसलिए अपने खाने में अधिक-से-अधिक फाइबर युक्त भोजन को शामिल करें। फाइबर के लिए आप छिलके वाले दाल और अनाज, ओट्स, ब्रोकली, अमरुद, सेब, केला, आम, पालक और गाजर का सेवन जरूर करें। छिलके वाली चीजों में फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता हैं। वजन कम करने के लिए केला और आम को खाली पेट सेवन करें।
wajan-kam-karne-ke-liye-mote-anaj-ka- sewan-jaroor-karna-chahiye

वजन कम करने के लिए क्या पीना चाहिए (Homemade drinks to lose weight fast in Hindi)

  1. वजन कम करने के लिए पानी जरूरत मात्रा में जरूर पियें। एक दिन में कम-से-कम 8-9 गिलास जरूर पियें।
  2. सेब का सिरका अगर नियमानुसार सेवन किया जाएँ तो वजन कम करने में मदद करता हैं।
  3. ग्रीन टी वजन कम करने के लिए बहुत कारगर होता हैं। दिन में एक-दो बार नास्ते और खाने 1 घंटे बाद बाद ग्रीन टी जरूर पियें। ग्रीन टी खाली पेट नहीं पियें।
  4. गुनगुना पानी पीना वजन कम करने में बहुत कारगर होता हैं, अगर आप हमेशा गुनगुना पानी पीते हैं तो आपका वजन जल्दी कम होगा। खासकर सर्दियों में गुनगुना पानी जरूर पियें।
  5. छाछ वजन कम करने में मदद होता हैं और स्वास्थ के लिए अच्छा भी होता हैं, ध्यान रखें कि सूप बिना तेल, फेट की मात्रा नहीं हो।
  6. कोई भी फल के जूस वजन कम करने में बहुत मदद करता हैं, सिर्फ आम, केला, अंगूर और चीकू को छोड़कर।
  7. सब्जियों के जूस भी वजन में मदद करता हैं जैसे गाजर, टमाटर और लौकी।
  8. छाछ, लस्सी वजन कम करने में बहुत मदद करता हैं। दोपहर के खाने में छाछ, लस्सी का प्रयोग जरूर करें।
wajan-kam-karne-ke-liye-kya-pina-chahiye

वजन कम करने के लिए 6 अच्छी आदतें (8 Healthy habits for weight loss in Hindi)

  • सुबह उठते ही बिना ब्रश किये 2-3 गिलास हल्का गुनगुना पानी पीना।
  • सुबह-सुबह वर्कआउट कसरत करना जैसे:- टहलना, दौड़ना, सीढ़ी चढ़ना, साइकिलींग करना, ये सारी आदतें अपने दिनचर्या में लाना। ये सारे वर्कआउट करने से कैलरीज बर्न होता हैं, जिससे वजन कम करने में मदद करता हैं।
  • वजन कम करने के लिए योग में सूर्यनमस्कार के हस्तपादासन और अश्व संचालआसन स्टेप बहुत मदद करता हैं। सुबह या शाम सूर्यनमस्कार के इन स्टेपों को जरूर करें।
  • वजन कम करने के लिए लम्बे समय तक कुर्सी में बैठना, इन आदतों को कम करना। काम के दौरान जब आपको कुर्सी छोड़ने का मौका मिले जरूर इधर-उधर टहलें। आप आप फोन में बात करते हैं तो टहलते चलते-फिरते बात करें।
  • आप जब भी मॉल और मेट्रो में जाते हैं तो लिफ्ट और एस्कलेटर की जगह सीढ़ी का इस्तेमाल करें, इससे आपके वजन कम करने में बहुत मदद मिलेगा।
  • कभी-भी कुछ खा लेना, ऐसा न करें समय से भोजन करें।
  • जरूरत से ज्यादा खाना, ये भी अच्छी आदतें नहीं हैं, जरूरत मात्रा में ही खाएँ।

वजन कम नहीं होने के क्या कारण हैं (Reasons for not losing weight in Hindi)

  • वजन कम नहीं होने का सबसे बड़ा कारण होता हैं, कैलरीज युक्त भोजन करना और कैलरीज सबसे ज्यादा अनाज में पाया जाता हैं। अनाज की जगह सलाद, सब्जी, लस्सी और सूप का सेवन करना।
  • वजन कम नहीं होने के दूसरा सबसे बड़ा कारण हाँ, अपने दिनचर्या को ठीक नहीं करना जैसे:- खाने-पीने का समय, सोने का समय, उठने का समय, कसरत योगा नहीं करना, जरूरत से ज्यादा खाना और सही तरीके से नहीं खाना।
  • वजन कम नहीं होने का तीसरा बड़ा कारण हैं, बाहर के तला-भुजा और पैकिंग फ़ूड को ज्यादा खाना।
  • वजन कम नहीं होने का चौथा सबसे बड़ा कारण हैं, किसी-भी प्रकार के मीठा का सेवन करना। मीठा में अधिक कैलरीज होता हैं, जिससे वजन बढ़ता हैं।
  • वजन कम नहीं होने का पाचवां बड़ा कारण हैं, हमारे शरीर का हार्मोन कैसा हैं। अगर हमारे शरीर के किसी भी हार्मोन में गड़बड़ी होती हैं तो उससे भी वजन कम नहीं हो पाता हैं।
  • वजन कम नहीं होने का छठा सबसे बड़ा कारण हैं, तनाव और चिंता करना इसलिए तनाव मुक्त रहें।
  • वजन कम नहीं होने का सातवां बड़ा कारण हैं, खाना खाने के तुरंत बाद सो जाना।
  • वजन कम नहीं होने का आठवां सबसे बड़ा कारण हैं, बढ़ती उम्र अगर आपका उम्र ज्यादा हैं तो उससे भी वजन कम करने में कठिनाई हो सकती हैं।
wajan-kam-karne-ke-liye-kuch-achchi-aadten

मोटापा के नुकसान (Health side effects of obesity in Hindi)

मोटापा बढ़ने से शरीर में कई तरह के समस्या उत्पन्न होते हैं, लेकिन मोटापा के कारण सभी को समस्याओं का सामना करना पड़ेगा यह जरूरी नहीं हैं। अक्सर मोटापा लोगों में इस तरह की समस्या देखी जाती हैं जैसे:- हृदय रोग, मधुमेह, ब्लड-प्रेशर, साँस लेने में दिक्कत, अस्थमा, बाँझपन, स्टोन बनना, हाइपोथायरॉइडिस्म, ख़राब कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना, आत्मविश्वास में कमी होना, मानसिक और शारीरिक रूप से बीमार हो सकते हैं, महिलाओं और पुरुष में कैंसर का खतरा बढ़ जाना। और महिलाओं में गर्भधारण करने में दिक्कत आ सकती हैं।

तेजी से वजन काम करने के नुकसान (Rapid weight loss side effects in Hindi)

एक सप्ताह में 1 किलों से वजन काम नहीं करना चाहिए। अगर आप व्यायाम, जिम और योग-प्राणायाम द्वारा बहुत तेजी से वजन कम किये हैं तो फिर कोई नुकसान नहीं होगा और अगर आप डाइट फॉलो करके, काम खाके और पोषक-तत्वों की कम मात्रा को लेकर वजन कम किये हैं तो फिर नुकसान हो सकता हैं।

  • पहला नुकसान हैं कि आपका मसल्स कमजोर होने लगता हैं।
  • दूसरा नुकसान हैं कि शरीर में विटामिन, मिनिरल्स, आयरन, ज़िंक, प्रोटीन और कार्बोहायड्रेट जैसे कई पोषक-तत्वों की कमी हो जाती हैं।
  • तीसरा नुकसान हैं कि शरीर में पोषक-तत्व की कमी होने से बाल झड़ना और सफेद होने जैसे समस्या होने लगता हैं।
  • चौथा नुकसान हैं, आपका मेटाबॉलिज़्म कमजोर होने लगता हैं, मतलब कि पाचन के कार्य क्षमता कमजोर हो जाता हैं।
  • अचानक वजन कम करने का पाचवां नुकसान हैं कि पित्त की थैली में पथरी हो जाना।
  • छठा नुकसान हैं, शरीर में थकान, कमजोरी, घबराहट, साँस फूलना, चिड़चिड़ापन, दिमाग की कार्य क्षमता घटना और शरीर में पानी की कमी हो जाना।
  • सातवां नुकसान हैं अचानक वजन कम करने से महिलाओं में मासिक-धर्म की गड़बड़ी हो सकती हैं।
weight loss bmi cart
BMI Cart

FAQ. (वजन घटाने से जुड़े सवाल और जबाब)

Q. एक सप्ताह में कितना वजन कम करना चाहिए?

Ans:- हमें अपना वजन एक सप्ताह में 1 किलों से ज्यादा कम नहीं करना चाहिए।

Q. पतले होने के लिए डाइट में क्या-क्या खाना चाहिए?

Ans:- पतले होने के लिए अधिक-अधिक मोटे अनाज का सेवन करें। खाने में मल्टीग्रेन अनाज का उपयोग करें। अधिक-से-अधिक फाइबर युक्त भोजन को खाने में फाइबर करें। फाइबर युक्त भोजन करने से पेट लम्बे समय तक भरा रहता हैं, जिससे देर से भूख लगती हैं और वजन कम करने में मदद करता हैं। मोटे अनाज में जो, दलिया, बाजरे और रागी कई और अनाज हैं। खाने में विटामिन, मिनिरल्स और कार्बोहायड्रेट जैसे पोषक-तत्व जरूर होना चाहिए।

Q. लम्बाई के अनुसार वजन कितना होना चाहिए?

Ans:- आसान भाषा में आप इस तरह लम्बाई के अनुसार वजन कितना होना चाहिए, आप जान सकते हैं, जैसे:- अगर आपका हाइट 165 cm हैं तो आपका वजन 65 किलों होना चाहिए और अगर 170 cm हाइट हैं तो, आपका वजन 70 किलों होना चाहिए। सामान्य वजन और हाइट के लिए शरीर का BMI रेशियों 25 होना चाहिए।

Q. मोटापा कैसे बढ़ता हैं?

Ans:- मोटापा बढ़ने का पहला कारण हैं, आपके परिवार और खानदान, अगर आपके परिवार और खानदान में मोटे लोग हैं तो आपका भी वजन बढ़ने लगता हैं। दूसरा कारण गलत खानपान, गलत लाइफस्टाइल, खाने-पीने और सोने का समय सही नहीं होना। ज्यादा बाहर का जंक फ़ूड खाना। मेहनत वाला काम नहीं करना और वर्कआउट और कसरत नहीं करना।

Q. मोटापा के कारण होने वाली बीमारी

Ans:- मोटापा के कारण शरीर में कई तरह बीमारी आ सकता हैं जैसे:- हृदय रोग, मधुमेह, ब्लड-प्रेशर, साँस लेने में दिक्कत, अस्थमा, बाँझपन, स्टोन बनना, हाइपोथायरॉइडिस्म, ख़राब कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना, कैंसर, मानसिक और शारीरिक रूप से बीमार और महिलाओं में गर्भधारण करने में दिक्कत आ सकती हैं।

अन्य पढ़े-

गन्ने के जूस पीने के फायदे और नुकसान

कच्चा मूली खाने के फायदे और नुकसान

हल्दी वाले दूध पिने के फायदे और नुकसान

शीघ्रपतन से कैसे छुटकारा पाएँ, नेचुरल तरीका

हस्तमैथुन करना सही या गलत, इससे कैसे छुटकारा पाएँ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here