सर्दियों में गुड़ खाने के 18 फायदे और नुकसान, पोषक-तत्व, कब और कितना

147

आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिये बता रहें हैं कि, सर्दियों में गुड़ खाने के 18 फायदे और नुकसान, पोषक-तत्व, कब और कितना और गुड़ खाने का सही समय क्या होता हैं। (Jaggery Benefits and Side Effects in Hindi) इसके अलावे कौन-सा गुड़ सबसे अच्छा होता हैं और गुड़ की तासीर कैसी होती हैं।

गुड़ की तासीर गर्म होती हैं, इसे सर्दियों में ज्यादा और गर्मियों में कम खाया जाता हैं। गुड़ गन्ने के रस से बनाया जाता हैं। गन्ने का रस की तासीर ठंडी होती हैं, लेकिन गन्ने के रस को गर्म करने के बाद जो गुड़ बनता हैं, इसलिए गुड़ की तासीर गर्म हो जाती हैं। गुड़ का सबसे ज्यादा उत्पादन भारत में होता हैं। पुरे दुनिया का 70% गुड़ भारत में उत्पादन होता हैं। भारत के सभी जगह गुड़ आसानी से मिल जाता हैं।

गुड़ हमें कई रंगों में दिखाई देता हैं जैसे:- पीले सफेद और डार्क कलर, जिसे हम चॉकलेटी कलर भी कहते हैं। इन दो रंगों में सबसे अच्छा चॉकलेटी रंग का गुड़ जो होता हैं, वह गुड़ सबसे अच्छा गुड़ होता हैं। आयुर्वेद में कहा गया हैं कि जो गुड़ जितना पुराना हैं, वह गुड़ उतना गुणकारी होता हैं।gud khane ke fayde our nuksan

गुड़ बनाने के बाद का जो प्रोसेस होता हैं, उससे चीनी बनाया जाता हैं। गुड़ बनाने में ना के बराबर कैमिकल्स का इस्तेमाल होता हैं और चीनी में कई सारे कैमिकल्स का इस्तेमाल होता हैं। गुड़ खाने के कई सारे फायदे हैं, लेकिन चीनी खाने के कई सारे नुकसान हैं। गुड़ में कई सारे पोषक-तत्व पाएँ जाते हैं।

गुड़ खाने से कई सारे हेल्थ लाभ मिलती हैं। गुड़ बड़ों के साथ-साथ बच्चों में भी बहुत लाभदायक होता हैं। गुड़ चीनी का एक अच्छा अल्टरनेटिव माना जाता हैं। अगर चीनी की जगह गुड़ का सेवन करें तो, चीनी में डालें गएँ केमिकल्स और उनसें होने वाले नुकसान से बच जाते हैं। गुड़ और चीनी के मिठास लगभग बराबर ही होता हैं।

गुड़ एक नेचुरल स्वीटनर हैं। भोजन के बाद मीठा खाने वालों के लिए गुड़ सबसे अच्छा विकल्प हैं। वह लोग जो भोजन के बाद मीठा खाना पसंद करते हैं, वह लोग