शीघ्रपतन का घरेलू नेचुरल और मानसिक इलाज उपचार

1031
इस पोस्ट में हम आपको बता रहें हैं कि, शीघ्रपतन क्या हैं इसका कारण और नेचुरल, घरेलू और मानसिक उपचार क्या हैं। (Premature Ejaculation Cure in Hindi) शारीरिक संबंध (Sex) रखते समय एक सामान्य समय से पहले लिंग से वीर्य बाहर निकल जाता हैं, उसे शीघ्रपतन कहते हैं। यह पुरुषों में होने वाले एक कॉमन सेक्सुअल समस्या हैं। खोजकर्ताओं के अनुसार ऐसा पाया गया हैं कि, 30-40% पुरुषों में कभी-न-कभी शीघ्रपतन की समस्या पाया जाता हैं।

किन्हीं-किन्हीं लोगों में सेक्स करते समय 15 सेकण्ड, किन्हीं में 30 सेकण्ड और किन्हीं में 60 सेकण्ड से भी कम समय में डिस्चार्ज हो जाता हैं। किन्हीं-किन्हीं लोगों में लिंग योनि में डालने से पहले ही डिस्चार्ज हो जाता हैं और किसी का लिंग योनि में डालने के बाद एक-दो घर्षण के बाद डिस्चार्ज हो जाते हैं। 
 
 
यह सामान्य समय क्या हैं, इसमें कई तरह की बातें कही जाती हैं। पहले कही जाती थी कि, समय से फर्क नहीं पड़ता हैं। सेक्स करते समय जबतक दोनों पार्ट्नर संतुस्ट महसूस न करें और उससे पहले अगर लिंग से वीर्य बाहर निकल जाता हैं, उसे शीघ्रपतन कहते हैं। यह भी कहा जाता था कि, अगर आप सेक्स करते समय लिंग को अगर योनि में बहुत-स्पीड में घर्षण करते हैं तो, उसके कारण से भी शीघ्रपतन होता हैं। 
 
हाल में ही कुछ साल पहले DSM जो एक अमेरिकन साइकियाट्रिक एसोसिएशन हैं, उसनें यह खोज किया कि, अगर सेक्स करते समय अगर 1 मिनट से कम समय में लिंग से वीर्य बाहर निकल जाता हैं, उसे शीघ्रपतन कहेंगें। किन्ही-किन्ही लोगों में सेक्स करने से पहले, जब वह फॉर प्ले कर रहें होते हैं, उसी समय शीघ्रपतन हो जाता हैं।  

शीघ्रपतन के बारे में गलतफेमियाँ 

शीघ्रपतन का एक कॉमन कारण यह हैं कि, अपने आप से उम्मीद से ज्यादा सेक्स करने की इच्छा करना। लोग अक्सर ब्लू फिल्म (Porn Movie) में देखते हैं कि, वह लोग सेक्स बहुत देर 30-40 मिनट करते हैं तो, उनको लगता हैं कि, उनके सेक्स करने का समय के मुकाबले, अपना सेक्स का समय बहुत कम हैं और अपने आप को शीघ्रपतन का रोगी मानते हैं। 80% से 90% लोग मानसिक समस्या के कारण शीघ्रपतन के भम्र में जीते हैं। सेक्स करते समय पति अगर डिस्चार्ज हो जाएँ और पत्नी संतुस्ट न हो तो, उससे भी लगता हैं कि, वह शीघ्रपतन का शिकार हैं। 
 
दूसरी और कई ऐसे अपने दोस्तों होते हैं जो, सेक्स की बातें करते हैं। एक-दूसरे का कहना हैं कि, उनका सेक्स इतना-इतना समय तक होता हैं, उनमें किसी एक लगता हैं कि, उनका सेक्स कम देर तक का हैं तो, उनको भी लगता हैं कि, उन्हें शीघ्रपतन की समस्या हैं। दूसरी और बिना शादी-सुदा लोग भी अपने आप को शीघ्रपतन की समस्या बताते हैं। वह लोग अपने हस्तमैथुन को समय के साथ गिनती करते हैं और उनका समय कम होता हैं तो, उनको लगता हैं कि वह भी शीघ्रपतन से पीड़ित हैं, जबकि हस्तमैथुन से शीघ्रपतन का दूर-दूर तक कोई कनेक्शन नहीं हैं। 
 

शीघ्रपतन होने के कारण 

शीघ्रपतन होने के कई कारण होते हैं। अगर लिंग में अचानक तनाव बहुत तेज गति से आता हैं तो, उन लोगों में जल्दी डिस्चार्ज होने की समस्या होती हैं। अगर आपको किसी तरह का नशे और ड्रस की लत हो तो, उनको भी शीघ्रपतन की समस्या हो सकती हैं।
 
ऐसा भी कहा जाता हैं कि, कुछ लोगों में एक नियम सा बन जाता हैं कि, यदि कुछ लोगों में अगर 5 मिनट में डिस्चार्ज होना हैं तो, वह 5 मिनट सेक्स करने के बाद ही डिस्चार्ज होगा। अगर कुछ लोगों में 10 मिनट और कुछ लोगों 1 मिनट में डिस्चार्ज होना हैं तो, वह उतने ही समय में डिस्चार्ज होगा। 
 
शीघ्रपतन की क्रिया सीधे हमारे दिमाग से जुड़े होते हैं। हमारे दिमाग के पीछे हिस्से में हार्मोन होते हैं, जिसे हम सेरिटोन कहते हैं। अगर इसका कमी हो जाता हैं तो, शीघ्रपतन की समस्या हो जाता हैं। अच्छा और स्वादिस्ट खाना खाने से