प्याज खाने के 15 फायदे और नुकसान | प्याज कब और कितना खाये

1144
इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की प्याज के फायदे और नुकसान। (onion benefits and side effects in hindi) प्याज के मेडिकल नाम अल्लीयम सेपा (Allium Cepaहैं। हमलोग प्याज तीन तरह के देखते हैं, लालहरा और सफेद। इन तीनों में सफेद वाला प्याज सबसे ज्यादा गुणकारी होता है। प्याज की तासीर ठंडी होती हैं, इसलिए इसका ज्यादातर सेवन गर्मीयों में किया जाता हैं।
 
प्याज का सेवन सर्दीयों में भी कर सकते हैं, मात्रा के अनुसार। कच्चे प्याज में बहुत सारे गुण पाए जाते हैं। पकाने के बाद इसके बहुत सारे गुण कम हो जाते हैं। इनका अनेक नाम हैं, जैसे:- पयाज, प्याज और कांदा देश के अनेक राज्यों में अलग-अलग नाम से पुकारा जाता हैं। 
 
इनका खेती पुरे भारत में गुजरात, महारास्ट्र, उत्तर-प्रदेश, पक्षिम बंगाल और दक्षिण भारत की जाती हैं। प्याज काटते समय आँखों में जलन का होना और आँखों से आँसू आना, इसका प्रमुख कारण इसमें एलिसिन नाम का सल्फर पाया जाता है। प्याज खाने के बाद मुँह से आने वाले बदबू से हम परेशान रहते हैं। प्याज काटने के उसे 1-2 घंटे तक पानी में डूबाकर छोड़ देते हैं, तो बदबू काफी कम हो जाती हैं। 
 
 
प्याज के फायदे (Benefits of Onion in Hindi)
वात, पित्त और कफ के लिए अच्छा:-
 
कच्चा प्याज खाने से हमारे शरीर के अंदर का पित्त को शांत रखता है। प्याज पित्त से होने वाले सभी रोगों को दूर दूर रखता है। प्याज वात-दोष को ख़त्म को करता हैं। वात-दोष (वायु-दोष) से होने वाले समस्या से बचाता हैं। शरीर के जोड़ोंघुटनों और कमर में दर्द होना वात-दोष का लक्षण हैं। प्याज के सेवन से शरीर में जमे कफ को भी ख़त्म करता हैं। 
 
लू का लगना:-
 
गर्मी के दिनों में ज्यादा बाहर काम करने से हमें लू लगने की संभावना बढ़ जाती हैं। कच्चा प्याज के सेवन से गर्मी के दिनों में लू लगने से बचाता हैं